Home उत्तरकाशी यहां की घाटियों की खूबसूरती का अलग ढंग है,कही शांति है तो कहीं शोर। यूट्यूब चैनल की वीडियो में देखे व पढ़े पूरी खबर…..

यहां की घाटियों की खूबसूरती का अलग ढंग है,कही शांति है तो कहीं शोर। यूट्यूब चैनल की वीडियो में देखे व पढ़े पूरी खबर…..

1 second read
0
0
287

सुनील थपलियाल उत्त्तरकाशी
आप अगर हिमालय की वादियों में घूमने के बारे में सोच रहे है ,अगर ऐसा है तो एक बार यमुनाघाटी की वादियों के बारे में जरूर सोचें।
कुदरत की खूबसूरती में उत्तराखंड राज्य की एक अलग बात है ।उत्त्तरकाशी के यमुनाघाटी की खूबसूरती आपका मन मोह लेगी ,यहां की घाटियों की खूबसूरती का अलग ढंग है,कही शांति है तो कहीं शोर।
जनाब कभी यमुनोत्री क्षेत्र भी आईये, यहां भी आपको कुदरत की खूबसूरती के कई रूप देखने को मिलेंगे।यहाँ कल कल बहती यमुना की जलधारा आपका मुस्कुराते हुए स्वागत करेगी,हरीभरी पहाड़ियां आपको हाथों हाथ लेगी। घाटी के इर्दगिर्द का इलाका गुलिस्तां सा सजा नजर आयेगा। हर ओर प्रकृति की नैसर्गिक सुंदरता आपको आकर्षित करती नजर आएंगी। और तो और बादलों का जमी पर आ जाना मानो स्वर्ग की अनुभूति करायेगी।
दरअसल यमुनाघाटी में प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम,यमुना माँ का मायका खरशाली ,नारायणपुरी,
रानाचट्टी ,भीच छात बुग्याल, धीनाड़ा ताल,शेषनाग मन्दिर कुपडा, राड़ी ,बौखटिब्बा,यमदग्नि ऋषि की तप स्थली ग्राम थान, यमुना के तट पर गंगा की जलधारा गंगनानी,बड़कोट में चन्देश्वर महादेव मन्दिर,नागेश्वर महादेव मंदिर, भगवती मन्दिर,माँ रेणुका मन्दिर सरनोल, सरुताल, फाचुकाण्डी, पौंटी भदरायी, देवदार के जंगलों के नजदीक रघुनाथ मन्दिर ग्राम गैर बनाल, देवराना लुदेश्वर महादेव मंदिर,पुरोला कमलेश्वर महादेव मंदिर,केदार कांठा ट्रेक,हरकीदून,चांगसील, सांकरी, जखोल सहित दर्जनों पर्यटक व धार्मिक स्थल आपका मन मोह लेगा।
हो जाईये तैयार ।
उत्त्तरकाशी जनपद का यमुनाघाटी आने के लिए देहरादून से बड़कोट मात्र तीन से साढ़े तीन घण्टे का सफर कुदरत की खूबसूरती व अलौकिक नजारों के बीच सफर का पता भी नही चलने देगा। ठहरने व भोजन की उचित व्यवस्था आपको जगह जगह मिल जाएगी
इसलिए यहां जरूर आये।

टीम यमुनोत्री Express

280 Views
Load More Related Articles
Load More By Smartwork
Load More In उत्तरकाशी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

किसके भरोसे रुकें पहाड़ में, जीवन ही सुरक्षित नहीं है! सिस्टम को शायद ही शर्म आए, पहाड़ी तो भगवान के ही भरोसे,पढ़े पूरी खबर……

दिनेश शास्त्री देहरादून। उत्तराखंड के पहाड़ और पहाड़ी दोनों कराह रहे हैं लेकिन सिस्टम है क…