Home देहरादून मनमोहन चौधरी बने अध्यक्ष, जुयाल महासचिव गढ़वाल मंडल विकास निगम कर्मचारी संघ का द्विवार्षिक अधिवेशन संपन्न,पढ़े पूरी खबर….

मनमोहन चौधरी बने अध्यक्ष, जुयाल महासचिव गढ़वाल मंडल विकास निगम कर्मचारी संघ का द्विवार्षिक अधिवेशन संपन्न,पढ़े पूरी खबर….

2 second read
0
0
34

ऋषिकेश
गढ़वाल मंडल विकास निगम
कर्मचारी संघ के एक दिवसीय अधिवेशन में नयी कार्यकारिणी का गठन किया गया। चुनाव अधिकारी ए.एस. रांगड, बी.एस. गुसाईं व संजय भट्ट की देख-रेख में हुए द्विवर्षीय चुनाव में कर्मचारी संघ के द्विवार्षिक चुनाव कराए गये। इस चुनाव में एक बार फिर मनमोहन चौधरी को निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया। इसके अलावा उपाध्यक्ष रामचन्द्र रावत, महासचिव बी.एम. जुयाल, संयुक्त सचिव रोशन लाल, कोषाध्यक्ष श्याम सिंह पंवार, संगठन मंत्री मेघनाथ, प्रचार मंत्री रणवीर रावत तथा कार्यकारिणी सदस्य राकेश पोखरियाल, विनोद रावत, उमा देवी, भगवान, मनमोहन शर्मा, दिनेश सकलानी चुने गए।
अधिवेशन में गढ़वाल मंडल के सुदूर क्षेत्रों के प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया। द्विवार्षिक अधिवेशन के प्रति कर्मचारी नेताओं में भारी उत्साह देखा गया। सभी वक्ताओं ने कर्मचारी संघ द्वारा अब तक उठाए गए कदमों की भरपूर सराहना की और भविष्य में और अधिक गतिशीलता के साथ काम करने का भरोसा जताया।
अधिवेशन में उत्तरकाशी के प्रतिनिधि मनमोहन शर्मा, टिहरी से संजय भट्ट, चमोली से बी.एम.कोठियाल, पौड़ी से नन्दा पुरोहित, हरिद्वार से विनोद रावत, मसूरी से राकेश रावत सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी पहुंचे थे।
चौधरी ने दिया भरोसा –
गढ़वाल मंडल विकास निगम कर्मचारी संघ के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मनमोहन चौधरी ने सभा को सम्बोधित करते हुए भरोसा दिया कि किसी भी कर्मचारी के हितों को प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि नियमितीकरण का मुद्दा उनके एजेंडे में सर्वोपरि है। इसे जल्द सरकार के सम्मुख रखा जायेगा। इसके अलावा एकीकरण के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि गढ़वाल तथा कुमाऊ मण्डल विकास निगम का समायोजन पर्यटन परिषद में करने से पूर्व नियमितीकरण किया जाए तथा अविलंब कर्मचारियों के लम्बित भुगतान किया जाए। उन्होंने अधिवेशन में उपस्थित प्रतिनिधियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी टीम पर जो भरोसा जताया गया है, वे उस कसौटी पर खरा उतरने का भरसक प्रयास करेंगे तथा कर्मचारी हित में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान पूर्ववत देते रहेंगे।

टीम यमुनोत्री Express

29 Views
Load More Related Articles
Load More By Smartwork
Load More In देहरादून

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

किसके भरोसे रुकें पहाड़ में, जीवन ही सुरक्षित नहीं है! सिस्टम को शायद ही शर्म आए, पहाड़ी तो भगवान के ही भरोसे,पढ़े पूरी खबर……

दिनेश शास्त्री देहरादून। उत्तराखंड के पहाड़ और पहाड़ी दोनों कराह रहे हैं लेकिन सिस्टम है क…