Home एक्सक्लूसिव चुनाव तारीख के ऐलान के बाद वर्चुअल रैली बनी राजनीतिक दलों के लिए मुसीबत का सबब

चुनाव तारीख के ऐलान के बाद वर्चुअल रैली बनी राजनीतिक दलों के लिए मुसीबत का सबब

2 second read
0
2
478

 

देहरादून (अमित नौटियाल)-

 

उत्तराखंड समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान हो गया है। ऐसे में राजनीतिक पार्टियों की धड़कने भी तेज़ हो गयी है। आपको बता दें कि उत्तराखंड में एक चरण में 14 फरवरी को मतदान होना है। और 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आने है। और 21 से 28 जनवरी तक नामांकन प्रक्रिया होनी है। ऐसे में सबकी निगाहें अब कांग्रेस और बीजेपी की उम्मीदवारों की सूची पर टिकी हुई है। जानकारी के अनुसार दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियां तीन से चार दिनों के बीच उम्मीदवारों की सूची जारी कर सकती है। लेकिन इस बीच खबरें ये भी है कि  दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियों के बीच टिकट बंटवारे को लेकर अंदर खाने खींचतान और माथापच्ची लगातार जारी है। लेकिन इस बार के चुनाव में कोविड को देखते हुए चुनाव आयोग ने कड़ा रुख अपनाते हुए 15 जनवारी तक रैली जनसभा बाइक शो रोड शो सभी प्रतिबन्ध लगाया गया है। राजनीतिक पार्टियों को वर्चुअल माध्यम से जनता से संवाद करने की बात कही है। लेकिन इस पाबंदी से राजनीतिक दल जहां आयोग के फैसले का स्वागत कर रहे है, पर दूसरी और सभी दल  मन ही मन में प्रचार ज्यादा न होने से चिंता में जरूर डाल दिया है।

टीम यमुनोत्री एक्सप्रेस

444 Views
Load More Related Articles
Load More By jayparkash bahuguna
Load More In एक्सक्लूसिव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

उत्तरकाशी: 4.53 ग्राम स्मैक के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार

  जयप्रकाश बहुगुणा उत्तरकाशी जनपद में अवैध मादक पदार्थों की सफ्लाई करने वालों के विरु…